Thursday, August 20, 2009

बिटिया रानी...



घुटनों के बल चलती रहना ,खड़ी ना तुम हो जाना बेटी !!!! छोटी सी ही बनी रहना, जल्दी बड़ी न तुम हो जाना बेटी !!!


10 comments:

AlbelaKhatri.com said...

waah !

हिन्दी साहित्य मंच said...

सुन्दर रचना।

Archana said...

बेटी है तो , बडी भी होगी...
अपने पैरों पर , खडी भी होगी...
आशिर्वाद-- बेटी को...

पी.सी.गोदियाल said...

दो लाइने जोड़ने की इजाजत चाहूँगा;
जब तक छोटी बनी रह सकती हो, जग को खूब सताना बेटी !
बड़ी हो गई बेटियों के लिए यहाँ, आज ठीक नहीं ज़माना बेटी !!

शोभा said...

ऐसा थोड़ी ना होगा। बेटी बड़ी भी होगी और सयानी भी। ः)

रश्मि प्रभा... said...

bitiya ko mera pyaar,dulaar,aashirwaad.....par ek din to kahegi hi bitiya"papa main chhoti se badee ho gai kyun"

रंजीत said...

जी, क्या सुन्दर ख्याल है . आह बचपन ! दुनिया में सिर्फ बच्चे ही होते तो कितनी ख़ूबसूरत होती यह दुनिया !!

AJEET SINGH said...

very nice pictures....

Rajesh Tanwar said...

baby bahut sundar hai...

PRATEEK said...

she is indeed very very cute