Saturday, October 24, 2009

साहसिक पर्वतारोही का सहयोग करें ...


बीकानेर के महान पर्वतारोही मगन बिस्सा जिन्होंने तीन बार एवरेस्ट पर विजय पाई है,आज जिंदगी की जंग लड़ रहें है !पहली बार १९८४ में बछेंद्री पल के साथ उन्होंने एवरेस्ट पर तिरंगा फहराया था !तब उन्हें इस साहसिक कारनामें हेतु सेना मैडल भी दिया गया था !किंतु आज ये साहसी अकेला ही मौत का सामना कर रहा है!ना तो राज्य और ना ही केन्द्र सरकार .सहायता को आगे आई है!मगन बिस्सा राजस्थान एडवेंचर .फाउन्देशन के अध्यक्ष और नेशनल एडवेंचर फाउन्देशन के निदेशक भी है !पिछली सात मई को वे चौथी बार एवरेस्ट अभियान में घायल हो गए थे !इस बार वे अपनी पत्नी के साथ एवरेस्ट फतह करने निकले थे !तभी से वे अस्पताल के आई सी .यूं में भरती है !आख़िर में उनके कुछ शुभचिंतकों ने ही उनकी सहायता का बीडा उठाया है !उनकी सहायता हेतु एक वेबसाईट भी बनाई गई है,इस वेबसाईट पर जाने हेतु यहाँ क्लिक करें!इस पर बिस्सा जी के बारे में तमाम विवरण उपलब्ध है!राज्य और देश का नाम ऊँचा करने वाले बिस्सा जी की सहायता हेतु हम सब को अपना योगदान देना चाहिए....

9 comments:

रश्मि प्रभा... said...

meri shubhekshayen saath hain.....

संगीता पुरी said...

बीकानेर के महान पर्वतारोही मगन बिस्सा जी के बारे में जानकर तकलीफ हुई .. मेरी शुभकामनाएं उनके साथ है !!

mark rai said...

meri subhkaamna unke saath hai ji...

Kusum Thakur said...

मेरी शुभकामनाएँ उनके साथ हैं .ईश्वर से प्रार्थना है कि वे जल्द स्वस्थ हो जाएँ .....

AJEET SINGH said...

आपकी पोस्ट पर प्राप्त प्रतिक्रियाओं से सपष्ट है की हम लोग कितने लापरवाह है!किसी उपलब्धि पर फोटो खींचने को तत्पर नेता अब खामोश क्यूँ है?यही हमारी सभ्यता है जहाँ हमेशा चढ़ते सूरज को ही सलाम किया जाता है,डूबते को नहीं....

KK Yadav said...

ईश्वर से प्रार्थना है कि वे जल्द स्वस्थ हो जाएँ .....

Babli said...

मैं भगवान से प्रार्थना करती हूँ की उनकी तबियत जल्द से जल्द ठीक हो जाए! शुभकामनायें !

दिगम्बर नासवा said...

ईश्वर से प्रार्थना है कि जल्द ही स्वस्थ हो कर दुबारा ये अभियान पूरा करें .............

Rajesh Tanwar said...

good & nice